आईटी अवसंरचना पर होगा 2.2 अरब डॉलर खर्च

भारत साल 2017 में आईटी अवसंरचना पर 2.2 अरब डॉलर खर्च करेगा जिसमें सर्वर, स्टोरेज और उद्योग नेटवर्किं ग उपकरण आदि शामिल है। यह साल 2016 की तुलना में 1.5 फीसदी अधिक है। मार्केट रिसर्च फर्म गार्टनर ने गुरुवार को यह जानकारी दी। इसमें बताया गया कि उद्योग नेटवर्किं ग खंड भारतीय आईटी अवसंरचना का सबसे बड़ा खंड है जिसका राजस्व इस साल 1.1 अरब डॉलर तक पहुंचने की संभावना है। 

गार्टनर के शोध निदेशक नवीन मिश्रा ने बताया, "डिजिटल बदलाव नए मौके और नई चुनौतियां लेकर आई है। ऐसे में उद्योगों के पास इन चुनौतियों से पार पाने के लिए आईटी अवसंरचना में निवेश करने की जरूरत है ताकि डिजिटल दुनिया से कदमताल कर सकें।" अब डिजिटल कार्यस्थल उद्यमों के लिए नया मंत्र है क्योंकि डिजिटल पीढ़ी कार्यबल में शामिल हो रही है। इसलिए व्यापार और आईटी नेतृत्व को एक चतुर बुनियादी ढांचे के निर्माण पर ध्यान केंद्रित करना होगा जो कार्यबल की बदलती जनसांख्यिकी की जरूरतों को पूरा कर सके।

शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

Riyanshi

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.