Market Live

Tuesday, 23 May 2017

सार्वजनिक ऋण घटकर 61 लाख करोड़ रुपये

देश के सार्वजनिक ऋण में कमी दर्ज की गई है और यह वित्त वर्ष 2016-17 में 60.66 लाख करोड़ रुपये रही, जोकि पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 1.9 फीसदी कम है। एक आधिकारिक बयान में सोमवार को यह जानकारी दी गई। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी ऋण प्रबंधन की तिमाही रिपोर्ट में बताया गया कि सरकारी ऋण (सार्वजनिक खातों के दायित्वों के बिना) साल 2016 के दिसंबर तक कुल 61.84 लाख करोड़ रुपये था। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही के दौरान सरकार ने 80,000 करोड़ रुपये मूल्य की दिनांकित प्रतिभूतियां जारी कीं, ताकि वित्त वर्ष 2017 के लिए 5,82,000 करोड़ रुपये (संशोधित अनुमान) की उसकी उधारियां पूरी की जा सकें।शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

Riyanshi

About Riyanshi

Author Description here..

Subscribe to this Blog via Email :

Note: only a member of this blog may post a comment.