अप्रैल में चुनौतीपूर्ण स्थितियों से सेवा क्षेत्र प्रभावित

देश का सेवा क्षेत्र जिसका अप्रैल में लगातार तीन महीनों से विस्तार होता रहा, लेकिन यह पिछले महीनों में इसकी सबसे कम वृद्धि दर रही, जिसका कारण मुख्य रूप से बाजार की चुनौतीपूर्ण स्थितियां रही, जिसने वृद्धि दर को प्रभावित किया। प्रमुख आर्थिक आंकड़ों से गुरुवार को यह जानकारी मिली। निक्केई इंडिया के सर्विसेज पर्चेजिंग मैनेजर सूचकांक (पीएमआई) अप्रैल में घटकर 50.2 पर रही जो मार्च में 51.5 और फरवरी में 50.3 थी। इस सूचकांक में 50 से ऊपर अंक बढ़त का सूचक है, जबकि 50 से कम अंक गिरावट का सूचक है। "भारतीय सेवा क्षेत्र के अप्रैल के पीएमआई आंकड़ों से पता चलता है कि वर्तमान आर्थिक माहौल कितना आशंकित है। कुछ व्यवसायों में चिंता बढ़ी है और उनकी गतिविधियां धीमी पड़ी है।"

शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

Riyanshi

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.