Tuesday, 30 May 2017

भारत की विकास दर 2017-18 में 7.2 फीसदी रहने का अनुमान

विश्व बैंक ने नोटबंदी और दीर्घकालीन निवेश वसूली के प्रभाव के मद्देनजर, 2017-18 में भारत की विकास दर 7.2 फीसदी रहने का अनुमान जताया है। अपने द्विवार्षिक आर्थिक इंडिया डेवलपमेंट अपडेट में विश्व बैंक ने सोमवार को कहा कि विकास दर बढ़कर 7.2 फीसदी हो जाएगी, जबकि 2016-17 में यह 6.8 फीसदी थी। यहां जारी एक रिपोर्ट में विश्व बैंक ने कहा, "वित्तवर्ष 18 में आर्थिक गतिविधियों के बढ़ने की संभावना है। साल 2016-17 के 6.8 फीसदी फीसदी की तुलना में विकास दर के 7.2 फीसदी होने का अनुमान है।" रिपोर्ट के मुताबिक, भारत की विकास दर साल 2019-20 में धीरे-धीरे 7.7 फीसदी तक बढ़ेगी।शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

सार्वजनिक सुविधा केंद्र होंगे जीएसटी सुविधा प्रदाता

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) व्यवस्था के पूरे देश में क्रियान्वयन में सुविधा के मकसद से सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को सार्वजनिक सेवा केंद्र (सीएससी) पर जीसटी सुविधा प्रदाता की एक कार्यशाला का उद्घाटन किया। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि सीएससी व्यापारियों के पंजीकरण, रिटर्न दाखिल करने और जीएसटी के तहत कई जरूरतों को पूरा करने में सहयोग करेंगे। वे (सीएससी) पूरे देश में जीएसटी को लागू करने में प्रशिक्षण व सहयोग करेंगे।


प्रसाद ने कहा, "जीएसटी का मतलब एक देश एक कर है। जीएसटी सुविधा प्रदाता सेवा जो आज शुरू की जा रही है, यह गांव स्तर के उद्यमियों (वीएलई) के लिए एक बड़ा अवसर है।"

शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

कच्चे तेल की कीमत 50.63 डॉलर प्रति बैरल

भारतीय बास्केट के कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत शुक्रवार को 50.63 डॉलर प्रति बैरल दर्ज की गई। यह गुरुवार को दर्ज कीमत 52.73 डॉलर प्रति बैरल से कम है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अधीनस्थ पेट्रोलियम नियोजन एवं विश्लेषण प्रकोष्ठ (पीपीएसी) ने यह जानकारी दी। रुपये के संदर्भ में भारतीय बास्केट के कच्चे तेल की कीमत शुक्रवार को घटकर 3270.72 रुपये प्रति बैरल हो गई, जबकि गुरुवार को यह 3401.49 रुपये प्रति बैरल थी। रुपया शुक्रवार को कमजोर होकर 64.59 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ था, जबकि गुरुवार को यह 64.51 रुपये प्रति डॉलर था। शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में मजबूती

देश के शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में मंगलवार को मजबूती का रुख है। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.50 बजे 57.22 अंकों की बढ़त के साथ 31,166.50 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 10.10 अंकों की बढ़त के साथ 9,615.00 पर कारोबार करते देखे गए। बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 2.45 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 31,111.73 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 14.25 अंकों की कमजोरी के साथ 9,590.65 पर खुला। शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

तमिलनाडु के व्यापारी से 30 किलो सोने की छड़ें जब्त

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को कहा कि उसने व्यापारी जे. शेखर रेड्डी और उनके सहयोगियों से जुड़े पुराने नोटों के बदले नए नोट के घोटाले में 30 किलो सोने की छड़ें जब्त कर ली हैं। इनका मूल्य 8,56,99,350 रुपये है। यह कार्रवाई धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए), 2002 के प्रावधानों के तहत की गई। यह कार्रवाई रेड्डी व उनके सहयोगियों पर पांच मई को नए नोटों में 34 करोड़ रुपये अस्थायी रूप से जब्त करने के बाद की गई है। यहां जारी एक बयान में ईडी ने कहा कि पुराने 500 व 1000 रुपये के नोटों की बंदी के बाद आयकर विभाग ने एसआरएस माइनिंग के प्रबंधक भागीदार रेड्डी के कई ठिकानों की तलाशी ली। इसमें करीब 97 करोड़ रुपये जब्त किए गए। इसमें नए नोटों में 34 करोड़ रुपये की राशि और 177 किलो सोने की छड़े हैं।

शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

कारोबारियों के लिए 'जीएसटी प्लेटफॉर्म' शुरू

एचपी इंडिया और केपीएमजी ने साथ मिलकर सोमवार को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली को अपनाने में कारोबारियों, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) की मदद के लिए संपूर्ण, सुरक्षित और सस्ता इनवॉयसिंग प्लेटफॉर्म 'जीएसटी सॉल्यूशन' की शुरुआत की। 'जीएसटी सॉल्यूशन' में उपभोक्ता को नए कर नियमों के मुताबिक, सुविधाजनक तरीके से सभी लेनदेन को फाइल करने के लिहाज से समर्थन करने की क्षमता है और इसमें बड़ी कंपनियों के इनवॉयस का मेल-मिलाप करने की जरूरतें कम करने की भी सुविधा उपलब्ध है।

शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

केंद्र सरकार का मुख्य उद्देश्य लीची का उत्पादन बढ़ाना

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह ने यहां सोमवार को कहा कि केंद्र सरकार का मुख्य उद्देश्य लीची के विकास एवं उत्पादन बढ़ाने के लिए शोध करके नई-नई किस्मों एवं तकनीकों का विकास करना है। उन्होंने कहा कि बिहार लीची उत्पादन में देश का अग्रणी राज्य है, अभी बिहार में 32 हजार हेक्टेयर क्षेत्रफल से लगभग 300 हजार मीट्रिक टन लीची का उत्पादन हो रहा है। केंद्रीय मंत्री ने मुजफ्फरपुर में लीची प्रसंस्करण संयंत्र के उद्घाटन के मौके पर कहा कि भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र एवं राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिकों ने लीची को उपचारित करके कम तापमान पर 60 दिनों तक भंडारित रखने में सफलता पाई है। शेयर बाजार की जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php