भारत-इटली के बीच नई व्यापारिक साझीदारी की शुरुआत होगी

भारत और इटली के बीच संयुक्त आर्थिक आयोग की आठ साल के अंतराल के बाद रोम में मई में बैठक होगी। इसकी घोषणा यहां गुरुवार को की गई। बीते कुछ सालों में संबंधों में तनाव के बाद भारत और इटली के बीच संबंध बहाली के रास्ते पर हैं। भारत दौरे पर आए इटली के आर्थिक विकास उप मंत्री इवान स्कालफरोटो ने इटली-भारत बिजनेस फोरम में कहा कि मई के मध्य में होने वाली संयुक्त आयोग की बैठक में भारतीय वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई करेंगी।

स्कालफरोटो 140 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख हैं, जो भारत आया हुआ है। इसमें इटली की 60 कंपनियों के प्रतिनिधि शामिल हैं। इस दल का मकसद द्विपक्षीय व्यापार और निवेश के संबंधों को बढ़ावा देना है। इनरिका लेक्सी मामले में 2012 में दो इतालवी नौसैनिकों के हाथों केरल के दो मछुआरों की मौत के बाद द्विपक्षीय संबंध प्रभावित हुए थे। इटली के राजदूत लोरेन्जो एंजेलोनी ने कहा, "भारत-इटली व्यापार फोरम दोनों देशों के बीच एक नई साझेदारी की शुरुआत है और इसमें ज्ञान और अनुभव की साझेदारी भी शामिल है।"

अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे -- http://www.ripplesadvisory.com/nifty-future-.php

Riyanshi

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.