ढेर सारे टैक्स के बदले एक टैक्स

एक देश एक टैक्स यानी जीएसटी लागू होने वाला है। लेकिन क्या आप जीएसटी को समझते हैं? रजिस्ट्रेशन कैसे कराएंगे? किससे कराना होगा? कहां-कहां कराना होगा? रिटर्न कैसे भरेंगे? रिफंड कैसे मिलेगा? जीएसटी की बारीकियां समझिए सीएनबीसी-आवाज़ के साथ आज से एक खास सीरीज में। हम क्यों जीएसटी को कह रहे हैं एक देश एक टैक्स। क्या आपने कभी सोचा है कि जब आप सामान खरीदते हैं तो कितने प्रकार के टैक्स देने पड़ते हैं और कितने सारे टैक्स देने पड़ते हैं। नहीं ना, लेकिन जब आप ये जानेंगे तो हैरान रह जाएंगे। मिसाल के तौर पर जब कोई सामान फैक्टरी से बनकर निकलता है तो उस पर सबसे पहले चुकानी पड़ती है एक्साइज ड्यूटी, जो कंपनी आखिरकार आपके जेब से वसूलती है।

कई मामलों में ये एक्साइज ड्यूटी काफी नहीं होती है इसीलिए कुछ प्रोडक्ट पर सरकार अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी भी वसूलती है। शेयर मार्किट की और अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें

Riyanshi

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.